Sunday, October 28, 2018

प्रो.एम. एस. स्वामीनाथन

 प्रो.एम. एस. स्वामीनाथन को प्रथम विश्व कृषि पुरस्कार प्राप्त हुआ 

भारत के हरित क्रांति के मुख्य स्थापत्य एवं हरित क्रांति के जनक कहे जाने वाले प्रो. एम. एस. स्वामीनाथन को 2018 के लिए विश्व कृषि पुरस्कार से सम्मानित किया गया हैं। प्रथम विश्व् कृषि जूरी ने यह घोषणा की हैं ।


इंडियन कॉउंसिल ऑफ़ फ़ूड एंड एग्रीकल्चर (ICFA) द्वारा आयोजित swaminathan Global dialogue on climate change and food security नामक एक विशेष सत्र में नई दिल्ली में विज्ञान भवन में उपराष्ट्रपति नायडू ने यह पुरस्कार प्रस्तुत किया। स्त्रोत-PIB

प्रो.एम.एस. स्वामीनाथन


स्वामीनाथन जी को भारत में हरित क्रांति का जनक कहा जाता हैं और विश्व में ये इनके कार्य basic and applied research in genetics,cytogenetics,radiation and chemical mutagenesis,food and biodiversity conservation आदि के लिए जाने जाते हैं। 
स्वामीनाथन 1972 से 1979 तक ICAR इंडियन कॉउंसिक ऑफ़ एग्रीकल्चरल रिसर्च के डारेक्टर रहे।
प्रो. स्वामीनाथन को 1999 में टाइम्स पत्रिका ने      20 वीं सदी के सबसे प्रभावशाली लोगो की सूची में शामिल किया था।

0 comments:

Share and comment